Email
india flag wix.png
india flag wix.png
ITALIANO

टेन्सियोमयोग्राफी

मांसपेशी प्रकार्य का परिमाण निर्धारित करना

टेन्सियोमयोग्राफी (टीएमजी)

एक संक्षिप्त परिचय:

टेन्सियोमयोग्राफी (संक्षिप्त में टीएमजी) एक प्रमाण पर आधारित विधि है जो मांसपेशी के संकुचन की गति और मांसपेशी की कठोरता का सटीक मापन करती है। इसका उपयोग कार्य-निष्पादन, स्पोर्ट मेडिसिन और अनुसंधान में किया जाता है।

 प्रशिक्षण योजनाओं को वैयक्तिकृत करना

  • एथलीटों की रूपरेखा बनाना

  • चोट की रोकथाम

  • गतिशील श्रृंखलाओं में कमजोर लिंक्स का पता लगाना

  • तत्परता की निगरानी करना

 

टीएमजी एथलीट की मांसपेशियों की रूपरेखा प्रदान करता है, ताकि आपको वह जानकारी मिल सके जो मांसपेशियों के अधिक तेज़ और अधिक मजबूत बनने के लिए या किसी विशेष मांसपेशी को विश्राम देने की जरूरत होने पर आवश्यक होती है।

प्रशिक्षकों को कार्य-निष्पादन बढ़ाने और जोखिमों का पता लगाने की चुनौती का सामना करना पड़ता है। टीएमजी एथलीटों के बारे में एक विस्तृत और परिमाणात्मक जानकारी प्रदान करके प्रशिक्षकों की सहायता करती है।

कार्य निष्पादन 

 

स्पोर्ट्स मेडिसिन

मांसपेशी के प्रकार्यात्मक विकारों का वस्तुनिष्ठ मूल्यांकन करना

  • खेलने के लिए लौटने से संबंधित निर्णय (पूर्वानुमान नहीं)

  • जोखिमों का प्रबंधन

  • जाँच और आकलन

  • स्वास्थ्यलाभ की निगरानी

 

चिकित्सा पेशेवरों के सामने जोखिमों का पता लगाने, संपर्क के बिना लगने वाली चोटों को कम करने, और यह सुनिश्चित करने की चुनौतियाँ आती हैं कि खेलने के लिए वापसी के परिणामस्वरूप दोबारा चोट न लगने पाए। टीएमजी इन तीन समस्याओं को तेज़, सटीक और वस्तुनिष्ठ ढंग से हल कर सकती है।

अनुसंधान

दृश्य वैज्ञानिक प्रकाशनों को समर्थन।

  • मांसपेशी के तीव्र और दीर्घकालिक परिवरितनों की निदान प्रक्रिया

  • मांसपेशियों की संरचना का गैर-आक्रामक निर्धारण

  • मांसपेशी की स्थानीय थकान का पता लगाना

दुनिया के कुछ प्रतिष्ठित शोध संस्थानों द्वारा टेन्सियोमयोग्राफी का उपयोग किया जा रहा है, जिससे उन्हें मांसपेशी के संकुचित/शिथिल होने की क्षमता में तीव्र या दीर्घकालिक परिवर्तनों का पता लगाने में मदद मिलती है। किसी विशेष प्रकाशन में दी गई जानकारी की नवीनता, प्रासंगिकता और विश्वसनीयता उसके प्रभाव को उल्लेखनीय रूप से प्रभावित कर सकती है। टेन्सियोमयोग्राफी का प्रयोग 100 से अधिक वैज्ञानिक पत्रों में किया गया है।

 

टीएमजी मापन

प्रोटोकॉल कैसा

दिखता है?

टेन्सियोमयोग्राफी (टीएमजी) का प्रयोग आइसोमेट्रिक स्थितियों के तहत रेडियल मांसपेशी के मोटे भाग के डिसप्लेसमेंट की निगरानी के लिए किया जाता है। डिसप्लेसमेंट सेंसर को मांसपेशी के मोटे भाग के ऊपर सबसे बड़े क्षेत्र पर स्पर्श-रेखीय सतह के लंबवत रखा जाता है। मांसपेशी के मोटे भाग के विस्थापन (विस्तारण) का संकुचन के दौरान प्रेक्षण किया जाता है और उसकी निगरानी की जाती है।

 

बाइसेप्स ब्रेकाई (बीबी) की आइसोमेट्रिक ट्विच संकुचन प्रतिक्रियाओं को प्रेरित करने और मापने के लिए प्रयुक्त प्रयोगात्मक सेट अप। टीएमजी सेंसर लघु विद्युत उत्तेजन द्वारा प्रेरित ट्विच संकुचनों के दौरान मांसपेशी के रेडियल विस्थापन को मापता है। उत्तेजक इलेक्ट्रोड सीधे त्वचा पर रखे जाते हैं।

सिंगल-ट्विच विद्युत उत्तेजनाओं से मांसपेशी संकुचन उत्पन्न किया जाता है। टीएमजी सेंसर के चारों ओर दो स्वयं चिपकने वाले इलेक्ट्रोड लगाए जाते हैं। एनोड को पीछे की ओर और कैथोड को सामने की ओर, मापने के बिंदु से 20-50 मिमी की दूरी पर रखा जाता है। द्विध्रुवीय विद्युत उत्तेजना की अवधि 1 मिलीसेकंड के एक एकल डीसी पल्स से युक्त होती है।

Fig. 1.

Experimental setup used to evoke and measure the biceps brachii (BB) isometric twitch contraction responses. The TMG sensor measures muscle radial displacement during twitch contractions induced by short electrical stimuli. The stimulating electrodes are placed directly onto the skin.

टीएमजी मापदंड:

बिजली के आवेग और संकुचन के 10% के बीच एक समय के रूप में विलंब समय (Td)

संकुचन के 10% और 90% के बीच एक समय के रूप में संकुचन समय (Tc)

संकुचन के 50% और विश्राम के 50% के बीच एक समय के रूप में सस्टेन समय (Ts)

विश्राम के 90% और 50% के बीच एक समय के रूप में विश्राम समय (Tr)

मांसपेशी के संकुचन के अधिकतम आयाम के रूप में विस्थापन (Dm)

Fig. 2.

The parameters that were measured with the TMG signal:

Dm – maximum amplitude (displacement),

td – initial delay time, 

tc – contraction time,

ts – sustained contraction time and

tr – half relaxation time.

टेन्सियोमयोग्राफी का विवरण

टेन्सियोमयोग्राफी एक तेजी से विकसित हो रही तकनीक है जो गैर-आक्रामक, व्यावहारिक, तेज़ और भरोसेमंद है। यह स्वास्थ्यलाभ या प्रशिक्षण की प्रगति को मापने में मदद करती है जिससे विशिष्ट उपचार प्रोटोकॉल की दक्षता का एक वस्तुनिष्ठ आकलन प्राप्त होता है। इसके द्वारा मापे गए विशिष्ट मांसपेशी संकुचन गुण चिकित्सा और उन कार्य-निष्पादन कर्मचारियों के लिए महत्वपूर्ण मानदंड हैं, जो किसी एक मांसपेशी की स्थिति के बारे में वास्तविक जानकारी पाना चाहते हैं।

 

टीएमजी एस2 की विशेषता है, इसकी सादगी, लचीलापन और मैदान पर या उसके बाहर अन्य विधियों और अनुप्रयोगों के साथ संगतता। बस कुछ ही मिनटों में एथलीटों की रूपरेखा बनाकर उनकी निगरानी की जा सकती है और उन्हें स्वास्थ्यलाभ या प्रशिक्षण प्रदान किया जा सकता है।

स्थिर चिकित्सा इमेजिंग के विपरीत, टीएमजी एस2 अत्यधिक लागत, समय या यात्रा के बिना मांसपेशियों की सच्ची प्रकार्यात्मक क्षमता को प्रकट करती है।

 

आकलन पीड़ारहित होते हैं, उनके लिए एथलीट को कोई प्रयास नहीं करना होता है और वे आवश्यक, स्पष्ट और वस्तुनिष्ठ बेंचमार्क प्राप्त करने के लिए चोट के तीव्र चरणों के दौरान भी संपन्न किए जा सकते हैं।

शोधकर्ताओं के साथ-साथ स्पोर्ट्स मेडिसिन और कार्य-निष्पादन पेशेवरों को भी प्रासंगिक और उद्देश्यपूर्ण जानकारी की जरूरत पड़ती है ताकि निर्णय तेजी से लिए जा सकें तथा अधिक जानकारी प्राप्त की जा सके। टीएमजी एस2 यह सुविधा एक कुशल, तेज़ और सरल तरीके से प्रदान करती है। इसके अलावा, मांसपेशियों के प्रकार्य के बारे में डेटा के शिक्षाप्रद महत्व को किसी अन्य तरीके से प्राप्त नहीं किया जा सकता है।

 

टीएमजी-बीएमसी कंपनी का विवरण

शरीर के विकास के लिए विज्ञान

टीएमजी-बीएमसी लि. मांसपेशी संकुचन परिमाण निर्धारण के लिए विधियों का विकास करने में अग्रगामी है। इस विधि को पहले अपनाने वाले लोगों के लिए अब अनुसंधान, स्पोर्ट्स मेडिसिन और कार्य-निष्पादन के क्षेत्र में सटीक, गैर-आक्रामक और सस्ते निदान के लिए नए दृष्टिकोण का उपयोग करने का अवसर उपलब्ध है।

जानकारी के लिए यहां जाएं: http://www.tmg-bodyevolution.com/

हमसे संपर्क करें

फॉलो करें
  • Facebook - White Circle
  • LinkedIn - White Circle
  • Twitter - White Circle

©2017 BY TENSIOMYOGRAPHY.